admin

Are AYUSH supported BGR-34 and IME-9 drugs safe and effective for diabetes? – Alt News

Are AYUSH supported BGR-34 and IME-9 drugs safe and effective for diabetes? Are AYUSH supported BGR-34 and IME-9 drugs safe and effective for diabetes? – Alt News In November 2014, the Modi govt. created a new ministry called the AYUSH, which stands for the Department of Ayurveda, Yoga and Naturopathy, Unani, Siddha and Homeopathy, with …

Are AYUSH supported BGR-34 and IME-9 drugs safe and effective for diabetes? – Alt NewsRead More »

भक्त होना कठिन है। हर कोई भक्त नही हो सकता। कठिन इम्तिहानों से गुजरना पड़ता है। क…

भक्त होना कठिन है। हर कोई भक्त नही हो सकता। कठिन इम्तिहानों से गुजरना पड़ता है। क्योंकि जब तुम मोदीजी को सच्चे दिल से चाहो तो पूरी कायनात उनके खिलाफ साजिश करने लग जाती है। और ऐसे में साजिश करने वाले को गरियाने का मन करता है, चाहे वो रिश्ते में बाप ही काहे न …

भक्त होना कठिन है। हर कोई भक्त नही हो सकता। कठिन इम्तिहानों से गुजरना पड़ता है। क…Read More »

हे बीजेपी आइटी सेल के परम तिकड़मबाजों, जब आम आदमी पार्टी की रैली में गजेंद्र सिं…

हे बीजेपी आइटी सेल के परम तिकड़मबाजों, जब आम आदमी पार्टी की रैली में गजेंद्र सिंह नामक किसान ने आत्महत्या की तब आप लोगों ने उसे कई एकड़ जमीन का मालिक कह कर मोदी सरकार का बचाव किया। वन रैंक वन पेंशन के लिए आन्दोलन कर रहे भूतपूर्व सैनिक रामकिशुन ग्रेवाल ने ख़ुदकुशी की तब …

हे बीजेपी आइटी सेल के परम तिकड़मबाजों,

जब आम आदमी पार्टी की रैली में गजेंद्र सिं…Read More »

Urban Fictionary

पढ़िए और समझिये। सरकार के हर कदम का सपोर्ट करने वाले प्रकाश पाण्डे की GST, नोटबंदी की वजह से आत्महत्या दुखद है। Urban Fictionary प्रकाश पांडेय की आत्महत्या की खबर से अब तक बाहर नहीं आ पाया हूँ ,जहां कहीं भी कुछ भी पढ़ने को मिल रहा है पढ़ ही रहा हूँ अभी उनकी प्रोफाइल …

Urban FictionaryRead More »

गीता के 19वें अध्याय में कृष्ण अर्जुन से कहते हैं – हे पार्थ, 21वीं सदी में नर…

गीता के 19वें अध्याय में कृष्ण अर्जुन से कहते हैं – हे पार्थ, 21वीं सदी में नरेंद्र मोदी नाम का एक अद्भुत राजा होगा, जिसके राज में मेरे भाषण की किताब -भगवद्गीता की एक कॉपी 38,000 रुपए में ख़रीदी जाएगी। सुनकर अर्जुन बेहोश हो गया। ~Dilip C Mandal